Menu
Morena, Madhya Pradesh, 476001
sujagriti99@gmail.com
Guggal Protection and Promotion
Serving Since 1995

Programmes of Sujagriti Samaj Sevi Sansthan

वृक्ष दान महादान
आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत आयुष आपके द्वार के तहत सुजागृति समाज सेवी संस्था मुरैना एवं आरसीएफसी जबलपुर के संयुक्त तत्वाधान में औषधि पौधा वितरण कार्यक्रम न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में राम प्रसाद बिस्मिल चौराहे पर आयोजित किया गया जिसमें गूगल, सतावर, अश्वगंधा कालमेघ, ब्राह्मी,तुलसी सर्पगंधा करंचआदि के पौधे 1000 पौधों का वितरण किया गया जिससे औषधिय पौधे घर-घर लगाए जा सके तथा औषधियों का लाभ जन समुदाय ले सके इन पौधों को भी लोग पहचान सकै इसी उद्देश्य को लेकर नेशनल मेडिसिनल प्लांट बोर्ड दिल्ली द्वारा पूरे देश में एक अभियान के रूप में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है इस कार्यक्रम में निशुल्क पौधा वितरण जन समुदाय को किये जा रहा है इसमें लोगों के मोबाइल नंबर और नाम लिए गए हैं वह जब अपने घरों मैं गमलों में पौधे लगाएंगे उस समय पौधे के साथ सेल्फी लेंगे और हमें डालेंगे इस तरीके से फॉलोअप कार्यक्रम भी होगा इस कार्यक्रम में लोगों ने बड़ी रूचि ली है 45 वार्ड के पार्षद एव नगर निगम के उपसभापति श्री केशव सिंह तोमर मय फैमिली के उपस्थित हुए तथा उन्होंने गूगल कलमेघ के पौधे लिए सुजागृति संस्था अध्यक्ष द्वारा लोगों को पौधों के विषय में उनके नाम तथा वह किस उपयोग में आते हैं वह बताया गया आरसीएफसी जबलपुर से श्री प्रतीक जैन ने भी इस कार्यक्रम में भागीदारी की 3 सितंबर 2021 को केवीके मुरैना में पूरे मुरैना शहर के लिए औषधि पौधों का वितरण किया जाएगा।

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

वृक्ष दान महादान
आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत आयुष आपके द्वार के तहत सुजागृति समाज सेवी संस्था मुरैना एवं आरसीएफसी जबलपुर के संयुक्त तत्वाधान में औषधि पौधा वितरण कार्यक्रम न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में राम प्रसाद बिस्मिल चौराहे पर आयोजित किया गया जिसमें गूगल, सतावर, अश्वगंधा कालमेघ, ब्राह्मी,तुलसी सर्पगंधा करंचआदि के पौधे 1000 पौधों का वितरण किया गया जिससे औषधिय पौधे घर-घर लगाए जा सके तथा औषधियों का लाभ जन समुदाय ले सके इन पौधों को भी लोग पहचान सकै इसी उद्देश्य को लेकर नेशनल मेडिसिनल प्लांट बोर्ड दिल्ली द्वारा पूरे देश में एक अभियान के रूप में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है इस कार्यक्रम में निशुल्क पौधा वितरण जन समुदाय को किये जा रहा है इसमें लोगों के मोबाइल नंबर और नाम लिए गए हैं वह जब अपने घरों मैं गमलों में पौधे लगाएंगे उस समय पौधे के साथ सेल्फी लेंगे और हमें डालेंगे इस तरीके से फॉलोअप कार्यक्रम भी होगा इस कार्यक्रम में लोगों ने बड़ी रूचि ली है 45 वार्ड के पार्षद एव नगर निगम के उपसभापति श्री केशव सिंह तोमर मय फैमिली के उपस्थित हुए तथा उन्होंने गूगल कलमेघ के पौधे लिए सुजागृति संस्था अध्यक्ष द्वारा लोगों को पौधों के विषय में उनके नाम तथा वह किस उपयोग में आते हैं वह बताया गया आरसीएफसी जबलपुर से श्री प्रतीक जैन ने भी इस कार्यक्रम में भागीदारी की 3 सितंबर 2021 को केवीके मुरैना में पूरे मुरैना शहर के लिए औषधि पौधों का वितरण किया जाएगा।

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes
Sujariti Programmes Sujariti Programmes

आज ग्राम जाबलौर में छेत्रीय सह सुविधा केंद्र मध्य प्रदेश जबलपुर आरसीएफसी की ओर से मनीष गोस्वामी सलाहकार और पंकज सैनी साहब का आगमन हुआ उनके द्वारा हितग्राही किसानों के साथ बैठक की तथा बीहड क्षेत्र का भ्रमण भी किया गया सुजागृति समाज सेवी संस्था द्वारा लगाए गए गूगल सतावर करील चमेली के पेड़ों का अवलोकन भी किया गया साथ ही जावरोल के पूर्व सरपंच श्री एहसान अली खान को अश्वगंधा की खेती के लिए मोटिवेट किया गया और वह अश्वगंधा लगाने के लिए तैयार हो गए तथा 4 किलो अश्वगंधा का बीज मनीष जी द्वारा एहसान अली को दिया गया इसकी खेती के रिजल्ट को देखने बाद अन्य किसान औषधि पौधों के लिए लालायित होंगे तथा इसे बीहड में आजीविका बढ़ाने का नया साधन हो जाएगा राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित आरपीएससी ब सुजागृति की यह मंशा है कि बीहड़ क्षेत्र में तथा खेती में औषधि पौधों का रोपण किया जाए जिससे किसानों की आय दोगुनी से भी ज्यादा हो जाएगी इसलिए अश्वगंधा और पुनर्नवा तथा क्षेत्र औषधि पौधों की संभावना तलाश कर उन्हें रोपित कर फसल अर्जित करके आजीविका के स्रोत यहां पैदा हो जिससे जो लोग भूमि हींनऔर बेघर हो गए हैं बीहड़ के कारण उनके लिए आजीविका का साधन बनाना उद्देश्य है

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

आज दिनांक 17 10 2020 को सीनियर आईफ़एस माननीय श्री श्रीनिवास संघ मूर्ति साहब पूर्व जैव विविधता बोर्ड सदस्य सचिव महोदय और उनकी पत्नी सुजाग्रति समाज सेवी संस्था द्वारा आयोजित जैव विविधता संरक्षण एवं संवर्धन कार्यक्रम ग्राम पिपरई मैं गूगल की उपयोगिता,फ़ल संग्रह पर गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें आदरणीय मूर्ति साहब द्वारा बताया गया कि जैव विविधता को समझने के लिए करोना से अच्छा कोई उदाहरण नहीं हो सकता है चमगादड़ के साथ छेड़छाड़ मनुष्य ने की उसका परिणाम आज सारा जगत भोग रहा है इसलिए हमें प्रकृति की खूबसूरती के साथ छेड़छाड़ नहीं करना है उसका संतुलन बनाना है गूगल एक ऐसी औषधि पौधा है जिससे हजार बीमारियों का इलाज होता है हमारे पास पर्याप्त जगह इसे लगाने के लिए तथा इसके लिए यहां की बीहड़ की मिट्टी बहुत मुफीद है यह यहां के लोगों की आजीविका का साधन बन सके यह प्रयास हम और आपको करना है आम के पेड़ लगाता कोई और है और आम खाता कोई और है हमें अपने साथ साथ आने वाली पीढ़ी का भी खयाल रखना है इस अवसर पर जैव विविधता प्रबंधन समिति पिपरई के अध्यक्ष द्वारिका नेता जी द्वारा भी जैव विविधता का महत्व बताते हुए उन्होंने कहा कि समुद्र मंथन के समय कल्पवृक्ष निकला था उसी की तुलना गूगल से की ,जैव विविधता प्रबंधन समिति के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह लंगड़ा गांव से पधारे उन्होंने भी जैव विविधता पर प्रकाश डाला और गूगल की सुरछा और संवर्धन के लिए प्रतिबद्धता जताई सुजागृति से जाकिर हुसैन द्वारा अभी तक गूगल पर किए गए कार्यों के विषय में बताया गया उन्होंने बताया कि आज गूगल शतावर से 500 परिवार की आजीविका चल रही है इसलिए इसका संरक्षण और संवर्धन बहुत ही आवश्यक है इस अवसर पर गोष्टी में प्रतिभागीता कर रहे समुदाय ने भी गूगल ओर औषधि पौधों का संरक्षण करने की शपथ ली वन विभाग से कुलश्रेष्ठ स्ट्रेंजर साहब लाखन सिंह डिप्टी रेंजर साहब द्वारा भागीदारी की गई इस कार्यक्रम से समितियों , समुदाय में व संस्था में नव जागृति नई चेतना नया उत्साह पैदा हुआ |

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

औषधि पार्क के लिए जन समुदाय की पहल आज कुस अमावस्या के अवसर पर दिनांक 19.8.2020 को ग्राम बमसौली में जनसमुदाय, जनप्रतिनिधियों एवं हितग्राही किसानों ब भक्त जनों के सहयोग से खो वाले हनुमान जी पर एक हेक्टेयर जमीन को औषधि पाक बनाने के लिए पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन सु जागृति समाज सेवी संस्था मुरैना द्वारा किया गया पौधारोपण से पूर्व पूर्व में जो पौधे लगाए गए थे उन पौधों की सफाई की गई घास हटाया गया फिर वृक्षारोपण किया गया वृक्षारोपण में गूगल, सतावर ,अग्नि मांथ, जामुन और बर्गद आदि के विभिन्न औषधीय पौधों का रोपण किया गया इस कार्यक्रम में श्री जितेन्द्र सिंह तोमर ,श्री राकेश पचौरी सबलगढ़ से ग्राम बमसौली के सरपंच मुरारी लाल रावत जैव विविधता प्रबंधन समिति के अध्यक्ष सद्स्य व हितग्राही किसान मुरैना से राकेश श्रीवास्तव सुशील कुमार नागर राजेन्द्र ,सुजागृति समाज सेवी संस्था से श्री जाकिर हुसैन मुन्नालाल आदि लोगों ने भागीदारी की यह वृक्षारोपण यहां एक औषधि पार्क बने, पर्यावरण की सुरक्षा हो गरीबों की आजीविका सुनिश्चित हो इस उद्देश्य को लेकर हरियाली से खुशहाली की ओर समुदाय को ले जाने का प्रयास किया जा रहहै यह कार्यक्रम राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड के सहयोग से आयोजित किया गया लगाये गए पौधों का रखरखाव का संकल्प भी ग्रामीण जनों ने लिया साथी सरपंच साहब ने ट्री गार्ड लगाने का आश्वासन भी दिया गया |


आज दिनांक 7.8.2020 को ग्राम पंचायत पहाड़ी के चक्क कॉलोनी सफेरे, मोगियों का पुरा तहशील मोरेनामैं सुजागृति समाज सेवी संस्था मुरैना द्वारा गणेश चतुर्थी के शुभ अवसर पर पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न प्रजातियों के पौधों का रोपण गुग्गल, सताबर जामोंन, नीम का किया गाया पर्यावरण की सुरक्षा एवं समुदाय की आजीविका का साधन भूमि कटाव को रोकने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है इस कार्यक्रम में हितग्राही किसान ग्राम सरपंच पहाड़ी बनवारी लाल गुर्जर राजेन्द्र सिंह सिद्दर यादब सुजागृती समाज सेवी संस्था के लोग भागीदारी करेंगे तकनीकी सहयोग के लिए वन विभाग से कुलश्रेष्ठ डिप्टी रेंजर पलिया फोरेस्ट गार्ड मुरैना रहेंगे पेड़ ही प्रदूषण के जहर को बचाते हैं हारी बीमारी से हम को बचाते हैं। हरियाली ही खुशियां ली है।


150 पौधों का पौधारोपण रविवार को शाम 5 बजे किया गया

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

आज विश्व पर्यावरण दिवस के शुभ अवसर पर सुजागृति समाजसेवी संस्था मोरेना द्वारा 500 गूगल सतावर के पेड़ों का वृक्षारोपण ग्राम बागचीनी में किया गया जिस कार्यक्रम में डीएफओ वन विभाग एसडीओ साहब रेंजर साहब डिप्टी रेंजर सुजागृति समाज सेवी संस्था के कार्यकर्ता और करीब 20 हितग्राही किसान सोशल डिस्टेंस के साथ यह वृक्षारोपण कार्यक्रम किया गया इसमें गूगल सतावर करील आदि पड़ लगाए गए 10 बीघा के खेत में जहां किसानों ने अपने खेतों की मेड़ों पर इन पौधों का रोपण किया इन पौधों को समतल जमीन पर लगाने के पीछे एक उद्देश्य यह है कि भविष्य में हमें गूगल के बीच आसानी से प्राप्त होंगे गौ द भी आसानी से प्राप्त होगा और वह दिखेगा इससे किसानों की आय वृद्धि होगी पर्यावरण सुधरेगा और लुप्त होती हुई प्रजाति गूगल बचेगी इस कार्यक्रम में ग्राम सरपंच राजेश जी हितग्राही किसान मनोज उपाध्याय अजयवीर सिंह सिकरवार 20 किसानों द्वारा इस कार्यक्रम में भागीदारी की यह कार्यक्रम नेशनल मेडिसिनल प्लांट बोर्ड के सहयोग से किया गया |

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

Conducting Pledge Programs for Biodiversity Conservation and Promotion Programs in different Schools of Murena

Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes Sujariti Programmes

Current Annual Program and Budget : 11,32,845 /-
Total Expenditure on the last three projects: i.e. Program based and Administration based.

S.No. Project Name Program Based Administrative Total Grants
1. Jal Abhishek 57485 15000 72485
2. Bio diversity 50000 13000 63000
3. Women Empowerment 44000 5196 49196
4. Gram Swaraj 58384 9000 67384
5. Reclamation of ravines through endogenous technology & ex-Situ conservation of local bio diversity in piprai panchayat of morena District in Madhya Pradesh
6. Gugal plantation 10000 plants 273000 10000 283000
7. Right to information 52000 8000 60000
S.No. Activity Name
01. Jal Abhishek
02. Bio diversity
03. Women Empowerment
04. Gram Swraj
05. Right to information
06. Dorbandi (3000 meters)
07. Gugal plantation 10000 plants
08. Established institutional arrangement for up scaling piloted action and enhanced economic returns for biodiversity based livelihoods.
09. Study of Forest Right Act

Project Title

“Reclamation of ravines through endogenous technology & ex-situ conservation of local biodiversity in Piprai Panchayat of Morena District in Madhya Pradesh”

Project Location
The project location would be one Gram Panchayats of Morena Block of Morena District of Madhya Pradesh, The project covers two villages of the panchayat namely Bhanpur and jaitpur.
(i) Region/State : Madhya Pradesh Nearest City : Morena
(ii) No of Villages : Core : 2 Dissemination : 5

Duration: 12 months
Person responsible for the project Mr. Zakir Hussain

Goal of the Project
Ravine reclamation in Chambal eco-region

Purpose/Objectives of the Project
Reclamation of ravines through endogenous technology & ex-situ conservation of local biodiversity in Bhanpur Panchayat of Morena District in Madhya Pradesh.

Project Outputs

Output 1 Development of rural cultural communities and them traditional song festivals and developing them cultural.
Output 2 20 ha of community owned ravines reclaimed through gugal plantation
Output 3 Established institutional arrangement for upscalling piloted action and enhanced economic returns for biodiversity based livelihoods.

Major Activities

Output 1 Cultural community developing in three villages.
Output 1 Two days trained program of them community traditional song.
Output 1 Held the stage program of them traditional base
Output 1 Studies them festivals fairs, Bazars, marriage and other functions.
Output 1 Studies of them dress up , ornaments and loading and boarding .
Output 1 Participate of them functions and development
Output 2 20 ha of community owned ravines reclaimed through gugal plantation (Submit estimate)
Output 2 Development to treatment plant
Output 2 Formation of women’s nursery raisers group
Output 2 Pre-planting works
Output 2 Soil and water conservation works in 20 ha
Output 2 Plantation
Output 2 Post-planting works
Output 3 Established institutional arrangement for up scaling piloted action and enhanced economic returns for biodiversity based livelihoods.
Output 3 Training of BMCs/JFMC on Plantation management.
Output 3 Development of institutional norms for plantation protection and implementation
Output 3 Linkage with MPSBB and MPFD for ongoing management support and upsaling.
Output 3 Formation of user group for Gugal and Statawar in plantation area
Output 3 Training of user group for Sustainable harvest and value addition
Output 3 Market linkages for enhanced economic returns.